साल का सबसे छोटा दिन और सबसे लंबी रात आज, जानें क्यों इसे कहते हैं विंटर सोलस्टाइस

साल का सबसे छोटा दिन आज या यानी 21 दिसंबर को होगा। ऐसा इसलिए होगा क्‍योंकि इस दिन मकर रेखा पृथ्‍वी के सर्वाधिक निकट होगी। इसी के चलते इस दिन की अवधि कम होगी। यह दिन 10 घंटे, 19 मिनट और 10 सेकंड की अवधि का होगा। इस दिन के बाद से ही ठंड बढ़ जाती है। इस दिन सूर्य पृथ्वी पर कम समय के लिए उपस्थित होता हैं तथा चंद्रमा अपनी शीतल किरणों का प्रसार पृथ्वी पर अधिक देरी तक करता हैं। इसे विंटर सोल्‍टाइस अथवा दिसंबर दक्षिणायन कहा जाता है। खगोल शास्त्रियों के अनुसार पृथ्वी अपने अक्ष पर साढ़े तेईस डिग्री झुकी हुई हैं। जिसके कारण सूर्य की दूरी पृथ्वी के उत्तरी गोलार्द्ध से अधिक हो जाती हैं और सूर्य की किरणों का प्रसार पृथ्वी पर कम समय तक हो पाता हैं। कहा जाता हैं कि इस दिन सूर्य दक्षिणायन से उत्तरायण में प्रवेश करता हैं।

वहीं ‘विंटर सोलस्टाइस’ के ठीक विपरीत 20 से 23 जून के बीच ‘समर सोलस्टाइस’ भी मनाया जाता है। तब दिन सबसे लंबा और रात सबसे छोटी होती है तो वहीं 21 मार्च और 23 सितंबर को दिन और रात का समय बराबर होता है। आज के दिन को ‘वास्तविक संक्राति’ से भी जोड़ते हैं क्योंकि ऐसा मानना है कि 1700 साल पहले आज के ही दिन ‘मकर संक्रान्ति’ मनाई जाती थी जो कि अब 14 जनवरी आती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here