फेसबुक पढता हे आपके प्राइवेट मैसेज, शेयर किया 8 करोड़ 70 लाख यूजर्स के निजी डेटा में पॉलिटिकल कंसल्टेंसी कैंब्रिज एनालिटिका ने सेंध लगाई है|

सोशल मीडिया जगत की सबसे बड़ी कंपनी फेसबुक ने बुधवार को इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि कैंब्रिज एनालिटिका के साथ करीब आठ करोड़ 70 लाख यूजर्स के डेटा अनुचित ढंग से साझा किए गए, कैंब्रिज एनालिटिका के साथ फेसबुक ने जिन 8 करोड़ 87 लाख लोगों के निजी डेटा साझा किए हैं, उनमें ज्यादातर अमेरिका के रहने वाले हैं. कैंब्रिज एनालिटिका ने अमेरिका के राष्ट्रपति चुनावों में डोनाल्ड ट्रंप के लिए काम किया था फेसबुक के चीफ टेक्नोलॉजी ऑफिसर माइक स्क्रोपर ने एक ब्लॉग पोस्ट लिखकर ये जानकारी सार्वजनिक की है|

जकरबर्ग बोले – कि तमाम गलतियों के बावजूद फेसबुक को लीड करने के लिए वही सही व्यक्ति हैं| बता दें कि फेक न्यूज स्टोरीज, चुनावों में हस्तक्षेप, प्राइवेसी से जुड़े स्कैंडल की मार झेल रही दुनिया की सबसे बड़ी सोशल मीडिया कंपनी को निवेशकों यूजर्स विज्ञापनदाताओं और राजनेताओं के आक्रोश का सामना करना पड़ रहा है पिछले महीने फेसबुक ने माना कि करोड़ों यूजर्स के निजी डेटा गलत तरीके से कैंब्रिज एनालिटिका के हाथ लग गए बुधवार को फेसबुक के शेयर 1.4 प्रतिशत गिरकर 153.90 प्रति डॉलर पहुंच गए कैंब्रिज एनालिटिका प्रकरण के बाद फेसबुक के शेयर में 16 प्रतिशत की गिरावट आई है. फेसबुक और कैंब्रिज एनालिटिका के इस अनुचित संबंधों के बारे में सबसे पहले दो अखबारों ने रिपोर्ट किया था|

5 करोड़ से ज्यादा यूजर्स हुए प्रभावित कैंब्रिज एनालिटिका से जुड़े अपने इंवेस्टिगेशन में अमेरिका के न्यूयॉर्क टाइम्स और लंदन के ऑब्जर्वर ने कहा था कि कम से कम 50 मिलियन (5 करोड़ से ज्यादा) फेसबुक यूजर्स निजी डेटा लीक प्रकरण में प्रभावित हुए हैं|हालांकि स्क्रोपर ने यह नहीं बताया है कि फेसबुक इस नतीजे पर कैसे पहुंचा कि 8 करोड़ 70 लाख यूजर्स प्रभावित हुए हैं. लेकिन उन्होंने कहा है कि फेसबुक उन लोगों को इस बारे में सूचित करेगा कि उनका डेटा अनुचित तरीके से कैंब्रिज एनालिटिका के साथ शेयर किया गया है|

11 अप्रैल को अमेरिकी कांग्रेस के सामने पेश होंगे जकरबर्ग  

सोशल मीडिया वेबसाइट फेसबुक के मुख्य कार्याधिकारी मार्क जकरबर्ग  11 अप्रैल को संसद की स​मिति के समक्ष हाजिर होंगे वाणिज्य विषयक संसदीय समिति ने बुधवार को यह घोषणा की फेसबुक यूजर्स की निजी जानकारी के कथित दुरूपयोग के कैंब्रिज एनालिटिका घपले के सामने आने के मद्देनजर जकरबर्ग  की यह पेशी हो रही है समिति ने उम्मीद जताई कि इस सुनवाई से ग्राहक डेटा गोपनीयता से जुड़े महत्वपूर्ण मुद्दों पर रोशनी पड़ेगी

उल्लेखनीय है कि यूजर्स से जुड़ी जानकारी तीसरे पक्ष को देने के इस मामले को लेकर फेसबुक की खूब किरकिरी हुई है|

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here